Home » ज्योतिष शास्त्र » ऐस्ट्रो-रेमिडीज

ऐस्ट्रो-रेमिडीज

ऐस्ट्रो-रेमिडीज

शुक्रवार व्रत: भौतिक सुख – समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है

शुक्रवार व्रत: भौतिक सुख - समृद्धि और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है

सप्ताह के पांचवें दिन उपवास के साथ रखा जाने वाला यह व्रत संतोषी माता की पूजा से संबंधित है। इसे सर्व सुख कामना, मान-सम्मान, संतान और राज्य-साम्राज्य की प्रप्ति के लिए सोलह सप्ताह किया जाता है। इसकी विशेषता खट्टा खाने की मनाही को लेकर भी है। धार्मिक ग्रंथों और ज्योतिष के अनुसार शुक्र के कमजोर होने या नीच नीच राषि ...

Read More »

मंगलवार व्रत से दूर होता है अमंगल

mangalvar-vrat

 मंगलवार को भगवान हनुमान का भी दिन माना गया है। ज्योतिष के अनुसार ग्रहों के अशुभ प्रभाव को खत्म करने के लिए पीड़ितों को उपवास और हनुमान की आराधना करने से मंगलकारी परिणाम मिलते हैं। अर्थात किसी व्यक्ति की कुंडली में कोई ग्रह अशुभ बना हुआ हो या किसी विशेष कार्य में बाधा आ रही हो, तो मंगलवार का विधि ...

Read More »

रविवार व्रत से सर्व मनोकामना पूर्ण होती है

pic-116

 सुख-समृद्धि और सर्वमनोकामना की पूर्ति के लिए किये जाने वाला रविवार के व्रत की महिमा अपरंपार है। इससे न केवल शत्रु पर विजय की प्राप्त होती है, बल्कि संतान प्राप्ति के भी योग बनते हैं। साथ ही यह व्रत नेत्र रोग और कुष्ठ रोग के निवारण के लिए भी किया जाता है। रविवार के दिन भगवान सूर्य की आराधना सूर्य ...

Read More »

क्यों और कैसे करें “सोलह सोमवार का व्रत”

pic-84

 सोमवार सप्ताह की शुरुआत का दिन होता है। नई संकल्पनाओं, उद्देश्यों और संभावनाओं के साथ इस दिन की शुरुआत शांत मन से की जाती है। इसके लिए जरूरी है कि व्यक्ति का मन व्यथित नहीं रहे और मनः स्थिति पर नियंत्रण बना रहे। इसमें भगवान शिव के नाम उपवास रखने से दिन के स्वामी चंद्रमा की भी आराधना हो जाती ...

Read More »
giay nam depgiay luoi namgiay nam cong sogiay cao got nugiay the thao nu